Home Internet and Web technology What is Java Script in Hindi? जावा स्क्रिप्ट क्या है ? Write...

What is Java Script in Hindi? जावा स्क्रिप्ट क्या है ? Write Advantage and Disadvantage of JavaScript in Hindi

Advertisment

JavaScript क्या है? (JavaScript in Hindi?)

जावा स्क्रिप्ट एक light-weight, open source और Client-side स्क्रीप्टिंग लैंग्वेज है। जिसे Netscape ने सन 1995 में develop किया हैं। यह HTML कोड के साथ Work कर सकता है तथा इसके द्वारा वेबसाइट के Content को dynamically अपलोड किया जा सकता है।

जावा स्क्रिप्ट को use करने के लिए कोई installation करने की जरुरत नहीं पड़ती है इसे आप डायरेक्टली syntax लगाकर use कर सकते है। जितना इसका कोड होगा उतना ही size मेमोरी में load होगा ।exta-size लोड नहीं लेगा। जावा स्क्रिप्ट open source है इसका use करने के लिए आपको किसी भी प्रकार के license या copyright लेने की जरुरत नहीं होती है ।इसे आप free में use कर सकते है।

इसका उपयोग वेबसाइट के user interface को develop करने के लिए किया जाता है। शुरुवात में जावा स्क्रिप्ट का नाम live-script था लेकिन इसे जावा से generate करने के कारण Netscape ने इसका नाम जावा स्क्रिप्ट कर दिया।


History of JavaScript (जावास्क्रिप्ट का इतिहास)

जावा स्क्रिप्ट को Netscape Communication Corporation ने सन 1995 में develop किया था। जावा स्क्रिप्ट को develop करने वाले scientist का नाम ब्रेंडन ईच (Brendan Eich) था। सर्वप्रथम शुरुवात में JavaScript को develop करते समय इसका नाम Mocha था। और जब सितम्बर 1995 में पहली बार इसको लाइव किया गया तब इसे LiveScript के नाम से पुकारा जाने लगा।लेकिन बाद में जावा प्रोग्रामिंग के ऑप्शनल लैंग्वेज के कारण इसका नाम JavaScript कर दिया गया।

यह भी पढ़ें:-

Advantage of JavaScript

दोस्तों जावा स्क्रिप्ट क्लाइंट साइट स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है जिसमे विशेषतायें निम्नलिखित है।

1.Open Source:-

जावा स्क्रिप्ट open source है इसका use करने के लिए आपको किसी भी प्रकार के license या copyright लेने की जरुरत नहीं होती है। इसे आप free में use कर सकते है।

2.Light-Weight:-

जावा स्क्रिप्ट को use करने के लिए कोई स्पेशल software की जरुरत नहीं पड़ती है और ना ही किसी प्रकार के installation करने की जरुरत नहीं पड़ती है इसे आप डायरेक्टली html के साथ कोडिंग करके उपयोग कर सकते है। जितने साइज़ का इसका कोड होगा उतना ही साइज़ मेमोरी में लेगा उससे अधिक स्पेस नहीं लेगा।

3. Less Server Interaction:-

दोस्तों दुसरे लैंग्वेज उपयोग करने के बजाय JavaScript का उपयोग करने से server का बैंडविड्थ save होता है। क्योकि जिस वेबसाइट में भी जावा स्क्रिप्ट का प्रयोग होता है उसमे यूजर के इंटरेक्शन या request का जवाब ज्यादातर जावा स्क्रिप्ट से ही प्राप्त हो जाता है ऐसे में सर्वर के पास दुसरे टास्क को perform करने के लिए और अधिक समय मिल जाता है।

उदाहरण:- दोस्तों कई बार आपने वेबसाइट में फ्रॉम भरते समय देखा होगा यदि आप ईमेल आईडी की जगह कुछ गलत इनफार्मेशन भरते है या पासवर्ड गलत कर देते है तो उस समय हमें तुरंत reply आ जाता है की पासवर्ड गलत है फिर हम उसे टिक कर लेते है इस तरह के तुरंत रिप्लाई वेबसाइट में जावा स्क्रिप्ट के उपयोग करने से प्राप्त होता है और हमारा request सर्वर तक जाने की बजाय जावा स्क्रिप्ट ही रिप्लाई कर देता है इस तरह सर्वर का बैंडविड्थ बच जाता है।

4. Richer interface:-

जावा स्क्रिप्ट के प्रयोग करने से वेबसाइट का look बहुत ही अच्छा हो जाता है। जावा स्क्रिप्ट से वेबसाइट में स्लाइडर एवम् ड्रैग एंड ड्राप आप्शन जोड़ सकते है।

5. Immediate Feedback to User:-

जावा स्क्रिप्ट क्लाइंट साइड में उपयोग होने के कारण वेबसाइट यूजर को तुरंत response देता है। वेबसाइट में कार्य करते समय एरर आने पर यूजर को तुरंत इनफार्मेशन मिल जाता है जैसे फ्रॉम भरते समय यूजर द्वारा गलत तरीके से इनफार्मेशन डालने पर उसको तुरंत message मिल जाता है।

यह भी पढ़ें:-

6. Platform independence:-

दोस्तों जावा स्क्रिप्ट cross प्लेटफार्म को सपोर्ट करता है अर्थात किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम में जावा स्क्रिप्ट प्रोग्राम को बनाकर अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम में चला सकते है साथ ही जावा स्क्रिप्ट पुराने से पुराने और नये से नए सभी प्रकार के वेब ब्राउज़र को सपोर्ट करता है जिसके कारण इसमें कार्य करना आसान हो जाता है।

7. Easy to Learn:-

जावा स्क्रिप्ट बहुत ही आसन लैंग्वेज है इसे आसानी से सिखा जा सकता है। जावा स्क्रिप्ट बहुत ही चर्चित लैंग्वेज है जिसके कारण इन्टरनेट तथा बुक्स में इसके टुटोरिअल असानी से मिल जाते है और असानी से सिख सकते है।


Disadvantage of JavaScript

दोस्तों जावा स्क्रिप्ट के बहुत सारें advantage है लेकिन जावा स्क्रिप्ट के कुछ limitation भी है जो हम निचे बताने जा रहे है।

1. Security issue:-

चूँकि दोस्तों जावा स्क्रिप्ट क्लाइंट साइट स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है जिसके कारण यह क्लाइंट साइड पर रन होता है लेकिन कुछ हैकर इनका प्रयोग करके यूजर को हैक कर सकता है इसलिए कई बार यूजर को अपने ब्राउज़र में जावा स्किप्ट को disable करके रखना पड़ता है।

2. Code always visible:-

दोस्तों अगर आपने वेबसाइट में जावा स्क्रिप्ट का प्रयोग किया है तो उसके कोड को कोई भी असानी से देख सकता है। और उसका miss use तथा चुराया जा सकता है।

3. Stop Website Rendering:-

अगर जावा स्क्रिप्ट वाली वेबसाइट को कोई सिंगल एरर भी होता है तो वेबसाइट की rendering पूरी तरह रुक जाता है यह जावा स्क्रिप्ट का एक बड़ा disadvantage है।

4. Support Not Available:-

चुकि दोस्तों जावा स्क्रिप्ट के लिए कोई भी नेटवर्क एप्लीकेशन उपलब्ध नहीं है जिसके कारण इसमें कोई सपोर्ट नहीं मिलता है।

5. Browser Support:-

कई बार जावा स्क्रिप्ट अलग-अलग ब्राउज़र में अलग अलग तरीके से इन्टरप्रेट होता है जिसके कारण कई बार आउटपुट में थोडा बहुत changes आ जाता है।इसलिए प्रोग्रामर जावा स्क्रिप्ट के कोड को सभी प्रकार के ब्राउज़र में रन करके देखता है जिसके कारण प्रोग्रामर को वेबसाइट डिजाईन करने में अधिक समय लग सकता है।


Java Vs JavaScript (जावा और जावा स्क्रिप्ट में अंतर)

दोस्तों जावा और जावा स्क्रिप्ट एक दुसरे से बहुत अलग है दोनों में काफी असमानता है जो निम्नलिखित है :-

1. जावा एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जो oops(object oriented programming) को पूरी तरह support करता है। जावा स्क्रिप्ट एक क्लाइंट साइड स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है और जावा स्क्रिप्ट भी OOPS(ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग कांसेप्ट) को सपोर्ट करता है।

2. जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का उपयोग application और applet बनाने के लिए किया जाता है जबकि जावा स्क्रिप्ट का उपयोग वेब पेज डिजाईन करने के लिए किया जाता है।

3. जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को चलने के लिए JVM तथा सॉफ्टवेर का उपयोग किया जाता है जबकि जावा स्क्रिप्ट को चलने के लिए स्पेशल सॉफ्टवेर की जरुरत नहीं पड़ती है जावा स्क्रिप्ट को ब्राउज़र में run किया जाता है।

4. जावा स्क्रिप्ट के तुलना में जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ज्यादा strict लैंग्वेज है क्योंकि जावा में प्रोग्रामिंग करते समय छोटी छोटी syntax का ध्यान रखना अति आवश्यक होता है।

5. जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में जावा स्क्रिप्ट light weight स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज है तथा जावा को heavy प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में गिना जाता है।

6. जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को हम JVM(जावा वर्चुअल मशीन) में run करते है जबकि जावा स्क्रिप्ट को किसी भी ब्राउज़र में run किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें:-

तो दोस्तों! उम्मीद करते है इस पोस्ट (What is JavaScript in Hindi) से कुछ अच्छी जानकारी जरुर मिली होगी अगर यह पोस्ट आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों को शेयर करें और अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो पोस्ट के निचे कमेंट करना ना भूलें।धन्यवाद् …..

Related Post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Subscribe Me on YouTube

 

पॉपुलर पोस्ट्स

पॉपुलर पोस्ट्स