Home Computer Hardware What is computer memory in hindi 2017 || what is ram in...

What is computer memory in hindi 2017 || what is ram in hindi || Types of Ram in Hindi

What is Ram in Hindi? Ram क्या है?

नमस्कार दोस्तों Computervidya में आपका स्वागत है। आज की इस वीडियो में हम Ram के बारे में बताएंगे। साथ ही दोस्तों, हम जानेंगे Ram कितने प्रकार के होते हैं। Ram की क्या क्या कार्य होते हैं। और हम कोशिश करेंगे की सभी प्रकार के रैम को Live दिखाने की।

तो दोस्तों, रैम को समझने के लिए सबसे पहले हम Memory को समझते हैं। हमारे कंप्यूटर की Electronic Storage Area को Memory कहा जाता है। मतलब हमारे कंप्यूटर के जिस भी डिवाइस पर डाटा इलेक्ट्रॉनिकी स्टोर होता है उन सभी डिवाइस को मेमोरी कहां जाता है। मेमोरी को दो केटेगरी में बांटा गया है। पहला Primary Memory और दूसरा Secondary Memory.

और दोस्तों Primary Memory वह मेमोरी होती है जो डाटा को अस्थाई रूप में स्टोर करती है। मतलब जब तक हमारा कंप्यूटर ऑन रहता है तब तक उसमें डेटा रहता है और कंप्यूटर के बंद हो जाने पर वह डाटा Secondary Memory में स्टोर हो जाता है। और उन सभी मेमोरी को जिसमें डाटा परमानेंट स्टोर होता है। उसे Secondary Memory कहा जाता है। जैसे हमारे कंप्यूटर में उपस्थित गाने, Software, Data और File हमारे कंप्यूटर के बंद हो जाने के बाद भी उसमें उपस्थित रहता है। अर्थात यह सभी हमारे कंप्यूटर के Secondary Memory में स्टोर होते हैं।

कहने का तात्पर्य हमारे कंप्यूटर का वह मेमोरी जो डाटा को परमानेंटली स्टोर करता है उसे Secondary Memory कहा जाता है। इसमें मुख्यता Hard Disk Drive, Floppy Disk Drive, DVD, CD और पेन ड्राइव जैसे स्टोरेज डिवाइस आते हैं। और हमारे Primary Memory में Ram और रोम दो प्रकार के मेमोरी आते है। और इन्हें ही हम Volatile Memory कहते है। और Secondary memory को Non Volatile memory कहा जाता है।

Ram के कार्य

अगर हम Ram के कार्य की बात करें तो Ram का Mainly कार्य Hard Disk से Data लेना और CPU को डाटा पहुचना होता है। जब यूजर Computer में कोई भी ऑपरेशन perform करता है। तो Hard Disk से डाटा CPU तक पहुचाने का कार्य Ram का होता है।मान लीजिये आप MS Office में कार्य कर रहे है। तो MS Office का डाटा CPU को जरुरत पड़ती है तो Hard Disk से MS office के डाटा को CPU तक पहुचाने का कार्य Ram करता है। और जब CPU ऑपरेशन को Complete कर लेता है तो डाटा को वापस Hard disk तक पहुचाने का कार्य भी Ram का ही होता है।

Ram की वजह से सिस्टम slow हो जाता है।

दोस्तों, कई लोग बात करते रहते हैं कि Ram की वजह से सिस्टम Slow हो जाता है। इसका कारण भी यही है कि जब यूज़र एक साथ Multiple ऑपरेशन परफॉर्म करता है तो Ram जल्दी से हार्ड डिस्क डाटा को CPU तक नहीं पहुंचा पाता है। क्योंकि Ram की साइज कम होती है। इस तरह दोस्तों जब सिस्टम में Ram कम होता है। तो डाटा को वह CPU तक नहीं पहुंचा पाता है। जिसकी वजह से हमारा सिस्टम Slow हो जाता है। दोस्तों अगर आप कंप्यूटर की Ram को बढ़ाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको आपके कंप्यूटर में उपस्थित Ram के प्रकार को जानाना होगा। Ram के प्रकार को जानकर उसी प्रकार के Ram को खरीद कर अपने कंप्यूटर में लगाकर उसकी स्पीड को बढ़ा सकते हैं।

Types of Ram in Hindi ? Ram के प्रकार क्या है?

दोस्तों Ram के विभिन्न प्रकार हैं जैसे DDR1 Ram, DDR2 Ram, DDR3 Ram और DDR4 Ram इत्यादि। DDR का तात्पर्य Double Data Rate Version 1, 2,3 और 4 है। साथ ही Ram के विभिन्न साइज होते हैं जैसे 1GB, 2GB, 4GB, 8GB और 16GB इत्यादि। दोस्तों अगर हम Ram किस टाइप की बात करें तो Ram विभिन्न प्रकार के आते हैं और अलग अलग कंप्यूटर में अलग-अलग प्रकार की Ram लगी होती है। उदाहरण के लिए सबसे पुराने कंप्यूटर हुआ करते थे उनमें SDRam लगा रहता था। उसके बाद जो P4 Computer आया उसमें DDR1, DDR2, DDR3 और वर्तमान समय के नए कंप्यूटर में DDR4 Ram लगे होते हैं। और दोस्तों अगर आप Ram को Live देखना चाहते हैं तो हमारे इस वीडियो को देखें और अगर वीडियो आपको पसंद आए इसे लाइक और शेयर करें। और अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो Comment करना ना भूले। धन्यवाद !

यह भी पढ़ें:-

Related Post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर पोस्ट्स

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.