Home Computer Networking What is Digital Signature in Network Security in Hindi || Digital Signature...

What is Digital Signature in Network Security in Hindi || Digital Signature Notes in Hindi

Digital Signature ( डिजिटल सिग्नेचर क्या है ?)

डिजिटल सिग्नेचर एक Mathematical Scheme है। जिनका उपयोग डिजिटल Message या Document के Authentication को Verify करने के लिए किया जाता है। Digital Signature में Asymmetric key Cryptography का प्रयोग किया जाता है।

Uses of Digital Signature(डिजिटल सिग्नेचर)

इलेक्ट्रॉनिक डॉक्यूमेंट को, इन्टरनेट के माध्यम से एक जगह से दुसरे जगह में ट्रांसमिशन करने के लिए किया जाता है। ज्यादातर इनका प्रयोग E-commerce और E-Governance में किया जाता है। डिजिटल सिग्नेचर किसी भी इलेक्ट्रॉनिक डॉक्यूमेंट को Authenticity, Integrity और Non repudiation प्रदान करता है।

  • Authenticity:- इलेक्ट्रॉनिक डॉक्यूमेंट को Verify करने के साथ साथ डॉक्यूमेंट भेजने वाले Sender को भी Verify करता है।
  • Message Integrity:- इलेक्ट्रॉनिक मैसेज Receiver के पास सही रूप में और पूरा (correct & Complete ) प्राप्त करें।
  • Non–repudiation:- Sender जब डॉक्यूमेंट को Send करता है और Receiver उसे प्राप्त कर लेता है। इसके बाद किसी कारण से Sender डॉक्यूमेंट को identify करने से इनकार नहीं कर सकता है।

डिजिटल सिग्नेचर प्रक्रिया

नेटवर्क में जब भी किसी Sender को डिजिटल सिग्नेचर के साथ डॉक्यूमेंट या मैसेज भेजना होता है।

Digital Signature Approaches

Digital Signature को दो Approaches में बाँटा गया है।

  1. RSA Approach
  2. DSS Approach

दोनों Approaches में HASH Algorithm का प्रयोग किया जाता है

यह भी पढ़ें:-

Related Post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

पॉपुलर पोस्ट्स

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.